– 11 श्रेणियों में 29 दिग्गजों को मिलेगा पुरूस्कार

– 11 मार्च को दिल्ली के एन डी एम् सी सभागार में खेल एवं राजनीति जगत के दिग्गजों के हाथों होगा पुरस्कार वितरण

 नई दिल्ली: फिजिकल एजुकेशन फाउंडेशन ऑफ़ इंडिया (पेफी) ने खेल एवं शारीरिक शिक्षा के क्षेत्र में योगदान देने वाले दिग्गजों को सम्मानित करने के लिए प्रतिष्ठित पांचवें पेफी राष्ट्रीय पुरस्कारों की घोषणा कर दी है।

पुरस्कार आयोजन समिति के सचिव डॉ चेतन कुमार ने इस आशय की जानकारी देते हुए बताया कि शारीरिक शिक्षा एवं खेलकूद मानव जीवन के अभिन्न अंग है और इसके प्रशिक्षकों और संस्थाओं को पेफी विगत 4 वर्ष से सम्मानित कर रही है. इस बार चयन समिति ने कठिन मेहनत के बाद पूरे देश से आये हुए आवेदनों में से 11 श्रेणियों में 29 लोगों और संस्थाओं को इस पुरस्कार के लिए चयनित किया है।

यह पुरूस्कार देश के उन चुनिंदा लोगों और संस्थाओं को दिया जाता है जिन्होंने देश में शारीरिक शिक्षा और खेलकूद को आगे बढाने में अहम योगदान दिया है, और शारीरिक शिक्षा एवं खेल के क्षेत्र में समाज और देश के लिए प्रेरणा बने हैं। चयनित पुरस्कार विजेताओं को 11 मार्च को दिल्ली के एन डी एम् सी सभागार में खेल एवं राजनीति जगत के दिग्गजों के हाथों पुरस्कार देकर सम्मानित किया जाएगा।

पुरस्कार चयन समिति के अध्यक्ष लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शिक्षण संस्थान के पूर्व निदेशक डॉ ए के उप्पल की अध्यक्षता में पूरे देश से आए आवेदनों पर 29 दिग्गजों पर विभिन्न श्रेणी के पुरस्कारों पर मुहर लगाया। चयन समिति में द्रोणाचार्य अवॉर्डी डॉ ए के बंसल, भारतीय विश्वविद्यालय संघ के पूर्व संयुक्त सचिव (खेल) डॉ गुरदीप सिंह, UNI के खेल पत्रकार राजेश राय, दिल्ली स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट एसोसिएशन के सचिव राजेन्द्र साजवान, दिल्ली यूनिवर्सिटी से एसोसिएट प्रोफ़ेसर डॉ मीरा सूद एवं मीनाक्षी पाहुजा जी एवं शारीरिक शिक्षक रिचा तुली, प्रवीन नागर शामिल थे.

चयन समिति की अनुशंषा पर पहली बार पेफी अवार्ड मरणोपरांत लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान ग्वालियर से डॉ. विश्वजीत वासुमतारी, डॉ. जयश्री आचार्या और दिल्ली यूनिवर्सिटी से डॉ. राकेश गुप्ता जी को दिया जाएगा.

शारीरिक शिक्षा के क्षेत्र में डॉ जीपी गौतम, लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड के लिए लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्था ग्वालियर से डॉ अनुरोध सिसोदिया, यूनियन क्रिस्चियन ट्रेनिंग कॉलेज पश्चिम बंगाल और खरिअर कॉलेज ओडिशा के शारीरिक शिक्षक डॉक्टर सरोज कुमार पांडा चयनित हुए I

कोचिंग के क्षेत्र में डॉ. अजमेर सिंह लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड कर्नाटका के एथलेटिक कोच अरोकिया स्वामी जयराज और भिवानी हरियाणा के डॉ. सुरेश कुमार मालिक है वही बेस्ट कोच अवार्ड के लिए आगरा के क्रिकेट कोच मनोज सिंह कुशवाह और दिल्ली के स्पेशल बच्चो के लिए काम करने वाले संदीप गुलिया का चयन हुआ.

डॉ जीपी गौतम बेस्ट फिजिकल एजुकेशन टीचर अवार्ड में डॉ. थिन्ग्नाम नंदलाल सिंह (चंडीगढ़) डॉ. माधवी मार्दिकर, डॉ. भीमा केंगले (महाराष्ट्र), शिबायन गांगुली (पश्चिम बंगाल), श्रीमती नारायण कविता (तेलंगाना), डॉ. प्रसन्ना बालाजी (तमिलनाडु) रुद्रेशा (कर्नाटका) कृष्ण कुमार चिल्लर (हरियाणा) एवं रश्मि सागर, राकेश शर्मा (दिल्ली) का चयन हुआ .

शारीरिक शिक्षा में उत्क्रस्त्ठ शोध कार्य के लिए डॉ. रोब्सन अवार्ड रोहित कुमार थापा (गुजरात) और डॉ. अकिला (तमिलनाडु) को मिला

खेलो के क्षेत्र में नेतृत्व और उत्क्रस्ठता के लिए कोमल एवं वी. के पाहुजा अवार्ड कर्नाटका के स्पोर्ट्स मेडिसिन एक्सपर्ट डॉ. किरण कुमार कुलकर्णी और पश्चिम बंगाल के डॉ. सुदर्शन विश्वास को मिला

वही डॉ. पी. एम् जोसफ अवार्ड केटेगरी में सर्वश्रेस्ठ शारीरिक शिक्षा कॉलेज लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा महाविद्यालय, केरला सर्वश्रेस्ठ स्कूल बाल भवन पब्लिक स्कूल दिल्ली को मिला.

बेस्ट ऑफिसियल जज और रेफरी का शरद भारद्वाज अवार्ड डॉ. सोनिया बाठला और कृष्णामूर्ति को मिला

वही ग्रामीण क्षेत्र में खेलों के प्रोत्साहन के लिए काम करने के लिए डॉ. राकेश गुप्ता अवार्ड महाराष्ट्र के डॉ. अशोक पीताम्बर खैरनार को मिला.

*****